>

Title: Regarding the lathicharge on teachers and issue to control wild animals in Punjab.

श्री प्रेम सिंह चन्दूमाजरा (आनंदपुर साहिब): महोदया, मैं एक बहुत ही महत्वपूर्ण मुद्दे पर बात करना चाहता हूँ। पंजाब में कल अध्यापकों पर लाठीचार्ज हुआ है। उनकी टांगें, बाजू आदि तोड़ दी गईं। उनके ऊपर पानी बौछारें की गईं। माननीय मुख्य मंत्री जी को टीचर माँग-पत्र देने जा रहे थे। उन पर बहुत ज्यादा अत्याचार हुआ। मैं केन्द्रीय सरकार से निवेदन करना चाहता हूँ कि पंजाब की स्थिति बहुत खराब हो गई है और पंजाब की सरकार ने लोगों के साथ विश्वासघात किया है।…(व्यवधान) लोग तंग आ गए हैं, परेशान हो गए हैं। माननीय गृह मंत्री जी इस तरफ ध्यान दें।…(व्यवधान) वहाँ की स्थिति बहुत विस्फोटक हो रही है। इस पर ध्यान देने की जरूरत है।…(व्यवधान)

          महोदया, पंजाब में आवारा पशुओं और जंगली जानवरों का मामला बहुत गंभीर हो रहा है।…(व्यवधान) मैं आपके माध्यम से सरकार से निवेदन करना चाहता हूँ कि जंगली जानवरों का कुछ बंदोबस्त किया जाए।…(व्यवधान) धन्यवाद ।

माननीय अध्यक्ष : श्री भैरों प्रसाद मिश्र को श्री प्रेम सिंह चन्दूमाजराद्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

…(व्यवधान)

12 14 hrs

At this stage, Shri Kodikunnil Suresh and some other hon. Members came and stood on the floor near the Table.

 

HON. SPEAKER: Shri P.K. Biju.

… (Interruptions)

Developed and Hosted by National Informatics Centre (NIC)
Content on this website is published, managed & maintained by Software Unit, Computer (HW & SW) Management. Branch, Lok Sabha Secretariat