Print

Sixteenth Loksabha

an>

Title: Need to take measures to provide benefits to consumers and cable operators in the country.

श्री राहुल शेवाले (मुम्बई दक्षिण मध्य): अध्यक्ष महोदया, आपने मुझे शून्यकाल में बोलने का अवसर दिया, बहुत-बहुत धन्यवाद। ट्राइ के नये टैरिफ के अनुसार दर्शकों को चैनल चुनने की स्वतंत्रता दी गयी है। …(व्यवधान) इसके पीछे उद्देश्य यह है कि दर्शकों से सिर्फ उन चैनलों का चार्ज किया जाए, जिसे वे देखना चाहते हैं। …(व्यवधान) स्टैण्डर्ड डिफिनिशन चैनल की कीमत हाई डिफिनिशन चैनल से ज्यादा है। इस व्यवसाय के पेशावर गणित को देखते हुए यह साफ है कि बिजनेस पाटर्नर सिर्फ ब्रॉडकास्टर को माना जाता है कि एम.एस.. या केबल ऑपरेटर को। …(व्यवधान) पे चैनल से जो मुनाफा होता है, उसमें सिर्फ 10 परसेंट केबल ऑपरेटर को मिलता है और बाकी 80 परसेंट पे चैनल्स और 10 परसेंट एम.एस.. को जाता है। केबल ऑपरेटर का व्यवसाय पूरी तरह से खुद की लागत पर संचालित होता हैं, जिसमें उन्हें किराया, कर, रख-रखाव आदि का खर्च भी निकालना पड़ता है। इस 10 परसेंट मुनाफे पूरा खर्च निकालना असंभव है। …(व्यवधान) चैनल्स की आमदनी विज्ञापन से भी होती है और पूरे विश्व में पे चैनल्स पर विज्ञापन प्रदर्शित नहीं किया जाता है। देखा जाए तो कुल मिलाकर ट्राई का आर्डर ग्राहक और केबल ऑपरेटर के हित में नहीं है।…(व्यवधान) अत: आपके माध्यम से मैं मंत्री जी से अनुरोध करता हूं कि वे ट्राई के ग्राहक और केबल ऑपरेटर्स के हित लाभ को बढ़ावा देने के लिए निर्देश दें। धन्यवाद।…(व्यवधान)

माननीय अध्यक्ष :

 

श्री गोपाल शेट्टी और

 

श्रीरंग आप्पा बारणे को श्री राहुल शेवाले द्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

 

an>

Title: Need to take measures to provide benefits to consumers and cable operators in the country.

श्री राहुल शेवाले (मुम्बई दक्षिण मध्य): अध्यक्ष महोदया, आपने मुझे शून्यकाल में बोलने का अवसर दिया, बहुत-बहुत धन्यवाद। ट्राइ के नये टैरिफ के अनुसार दर्शकों को चैनल चुनने की स्वतंत्रता दी गयी है। …(व्यवधान) इसके पीछे उद्देश्य यह है कि दर्शकों से सिर्फ उन चैनलों का चार्ज किया जाए, जिसे वे देखना चाहते हैं। …(व्यवधान) स्टैण्डर्ड डिफिनिशन चैनल की कीमत हाई डिफिनिशन चैनल से ज्यादा है। इस व्यवसाय के पेशावर गणित को देखते हुए यह साफ है कि बिजनेस पाटर्नर सिर्फ ब्रॉडकास्टर को माना जाता है कि एम.एस.. या केबल ऑपरेटर को। …(व्यवधान) पे चैनल से जो मुनाफा होता है, उसमें सिर्फ 10 परसेंट केबल ऑपरेटर को मिलता है और बाकी 80 परसेंट पे चैनल्स और 10 परसेंट एम.एस.. को जाता है। केबल ऑपरेटर का व्यवसाय पूरी तरह से खुद की लागत पर संचालित होता हैं, जिसमें उन्हें किराया, कर, रख-रखाव आदि का खर्च भी निकालना पड़ता है। इस 10 परसेंट मुनाफे पूरा खर्च निकालना असंभव है। …(व्यवधान) चैनल्स की आमदनी विज्ञापन से भी होती है और पूरे विश्व में पे चैनल्स पर विज्ञापन प्रदर्शित नहीं किया जाता है। देखा जाए तो कुल मिलाकर ट्राई का आर्डर ग्राहक और केबल ऑपरेटर के हित में नहीं है।…(व्यवधान) अत: आपके माध्यम से मैं मंत्री जी से अनुरोध करता हूं कि वे ट्राई के ग्राहक और केबल ऑपरेटर्स के हित लाभ को बढ़ावा देने के लिए निर्देश दें। धन्यवाद।…(व्यवधान)

माननीय अध्यक्ष :

 

श्री गोपाल शेट्टी और

 

श्रीरंग आप्पा बारणे को श्री राहुल शेवाले द्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

 

an>

Title: Need to take measures to provide benefits to consumers and cable operators in the country.

श्री राहुल शेवाले (मुम्बई दक्षिण मध्य): अध्यक्ष महोदया, आपने मुझे शून्यकाल में बोलने का अवसर दिया, बहुत-बहुत धन्यवाद। ट्राइ के नये टैरिफ के अनुसार दर्शकों को चैनल चुनने की स्वतंत्रता दी गयी है। …(व्यवधान) इसके पीछे उद्देश्य यह है कि दर्शकों से सिर्फ उन चैनलों का चार्ज किया जाए, जिसे वे देखना चाहते हैं। …(व्यवधान) स्टैण्डर्ड डिफिनिशन चैनल की कीमत हाई डिफिनिशन चैनल से ज्यादा है। इस व्यवसाय के पेशावर गणित को देखते हुए यह साफ है कि बिजनेस पाटर्नर सिर्फ ब्रॉडकास्टर को माना जाता है कि एम.एस.. या केबल ऑपरेटर को। …(व्यवधान) पे चैनल से जो मुनाफा होता है, उसमें सिर्फ 10 परसेंट केबल ऑपरेटर को मिलता है और बाकी 80 परसेंट पे चैनल्स और 10 परसेंट एम.एस.. को जाता है। केबल ऑपरेटर का व्यवसाय पूरी तरह से खुद की लागत पर संचालित होता हैं, जिसमें उन्हें किराया, कर, रख-रखाव आदि का खर्च भी निकालना पड़ता है। इस 10 परसेंट मुनाफे पूरा खर्च निकालना असंभव है। …(व्यवधान) चैनल्स की आमदनी विज्ञापन से भी होती है और पूरे विश्व में पे चैनल्स पर विज्ञापन प्रदर्शित नहीं किया जाता है। देखा जाए तो कुल मिलाकर ट्राई का आर्डर ग्राहक और केबल ऑपरेटर के हित में नहीं है।…(व्यवधान) अत: आपके माध्यम से मैं मंत्री जी से अनुरोध करता हूं कि वे ट्राई के ग्राहक और केबल ऑपरेटर्स के हित लाभ को बढ़ावा देने के लिए निर्देश दें। धन्यवाद।…(व्यवधान)

माननीय अध्यक्ष :

 

श्री गोपाल शेट्टी और

 

श्रीरंग आप्पा बारणे को श्री राहुल शेवाले द्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

 

an>

Title: Need to take measures to provide benefits to consumers and cable operators in the country.

श्री राहुल शेवाले (मुम्बई दक्षिण मध्य): अध्यक्ष महोदया, आपने मुझे शून्यकाल में बोलने का अवसर दिया, बहुत-बहुत धन्यवाद। ट्राइ के नये टैरिफ के अनुसार दर्शकों को चैनल चुनने की स्वतंत्रता दी गयी है। …(व्यवधान) इसके पीछे उद्देश्य यह है कि दर्शकों से सिर्फ उन चैनलों का चार्ज किया जाए, जिसे वे देखना चाहते हैं। …(व्यवधान) स्टैण्डर्ड डिफिनिशन चैनल की कीमत हाई डिफिनिशन चैनल से ज्यादा है। इस व्यवसाय के पेशावर गणित को देखते हुए यह साफ है कि बिजनेस पाटर्नर सिर्फ ब्रॉडकास्टर को माना जाता है कि एम.एस.. या केबल ऑपरेटर को। …(व्यवधान) पे चैनल से जो मुनाफा होता है, उसमें सिर्फ 10 परसेंट केबल ऑपरेटर को मिलता है और बाकी 80 परसेंट पे चैनल्स और 10 परसेंट एम.एस.. को जाता है। केबल ऑपरेटर का व्यवसाय पूरी तरह से खुद की लागत पर संचालित होता हैं, जिसमें उन्हें किराया, कर, रख-रखाव आदि का खर्च भी निकालना पड़ता है। इस 10 परसेंट मुनाफे पूरा खर्च निकालना असंभव है। …(व्यवधान) चैनल्स की आमदनी विज्ञापन से भी होती है और पूरे विश्व में पे चैनल्स पर विज्ञापन प्रदर्शित नहीं किया जाता है। देखा जाए तो कुल मिलाकर ट्राई का आर्डर ग्राहक और केबल ऑपरेटर के हित में नहीं है।…(व्यवधान) अत: आपके माध्यम से मैं मंत्री जी से अनुरोध करता हूं कि वे ट्राई के ग्राहक और केबल ऑपरेटर्स के हित लाभ को बढ़ावा देने के लिए निर्देश दें। धन्यवाद।…(व्यवधान)

माननीय अध्यक्ष :

 

श्री गोपाल शेट्टी और

 

श्रीरंग आप्पा बारणे को श्री राहुल शेवाले द्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

 

Developed and Hosted by National Informatics Centre (NIC)
Content on this website is published, managed & maintained by Software Unit, Computer (HW & SW) Management. Branch, Lok Sabha Secretariat